Breaking News

धान का मंजूरशुदा और प्रमाणित बीज ही निर्धारित रेटों सहित बिल उपलब्ध करवाया जाये – डा.सुरिन्दर सिंह

कल्याण केसरी न्यूज़ जालंधर, 06 मई 2021:  मुख्य कृषि अधिकारी जालंधर डा.सुरिन्दर सिंह ने ज़िले के सभी बीज विक्रेताओं को कहा कि धान का सिर्फ़ मंजूरशुदा और प्रमाणित किस्मों के बीज ही किसानों को निर्धारित रेटों सहित बिल उपलब्ध करवाया जाये। उन्होनें सभी डीलरों को भी कहा कि उनके पास रखे स्टाक का विवरण किसानों के लिए स्टाक बोर्ड के द्वारा ज़रूर दिखाया जाये और बिना किसी फ़ाल्तू प्रभार से किसानों को धान का अपेक्षित बीज पहुँचाया जाये।डा.सिंह ने किसानों को भी अपील की कि कोरोना वायरस के चलते धान आदि के बीज की माँग भरोसेयोग और लायसैंस शुदा बीज विक्रेताओं से और विभाग के तकनीकी विशेषज्ञ से तालमेल करते हुए बीज गाँव में ही प्राप्त करने के प्रयत्न किये जाएँ। उन्होंने यह भी कहा कि किसान सिर्फ़ पंजाब कृषि यूनिवर्सिटी की तरफ से सिफ़ारिश की किस्मों का बीज भरोसेयोग संस्थान से ख़रीदे और बिल भी ज़रूर प्राप्त करे और यह भी सलाह दी गई कि पूसा -44 और ग़ैर सिफ़ारिश शुदा बीज बिल्कुल न खरीदा जाये। उन्होनें कहा कि इस सम्बन्धित किसान ज़रूरत पड़ने पर अपनी लिखित शिकायत भी सम्बधित ब्लाक कृषि अधिकारी या कृषि विकास अधिकारी के पास ज़रूर करे।डा.सिंह ने बीज विक्रेताओं को धान की पूसा -44 किस्म प्रति भी सुचेत करते हुए कहा कि यह किस्म पकने में और ज्यादा समय लेती है और इस किस्म का पराल भी बहुत ज़्यादा होता है और पंजाब सरकार के सब सोईल वाटर प्रीजरवेशन एक्ट अनुसार धान की लगवाई कानून के साथ इस पूसा -44 किस्म के देरी के साथ पकने करके हाड़ी अधीन गेहूँ की बिजाई में देरी हो सकती है। उन्होनें इस अवसर पर सभी बीज विक्रेताओं को भी अपील की कि वह सीड एक्ट अनुसार बीज की बिक्री यकीनी बनाए और स्टाक स्टोर रजिस्टर मेन्टेन करते हुए बीज का व्युपार करे। उन्होनें आगे बताया कि बीज, खाद, और दवाओं की बिक्री सम्बन्धित बिल जारी करते हुए एक्ट अनुसार किसानों को सेवाओं प्रदान की जाएँ।डा. सिंह ने ज़िला जालंधर के सभी कृषि अधिकारियों और कृषि विकास अधिकारियों को आदेश दिए कि वह बीज विक्रेताओं तक धान के बीज की बिक्री बीज कंट्रोल आर्डर अनुसार करने के लिए संदेश ज़रूर पहुँचाए और चैकिंग करते हुए रिपोर्ट करे, जिससे किसानों को गलत बीज बेचने वाले डीलरों के ख़िलाफ़ कानून अनुसार कार्यवाही की जा सके।

Comments are closed.

Online Shopping
Scroll To Top