Breaking News

ज़िले के प्राइमरी और सेकेंडरी स्कूलों में बच्चों का हुआ इजाफा -ज़िलाधीश

कल्याण केसरी न्यूज़ अमृतसर ,10 जून ; – शिक्षा की कारगुज़ारी को लेकर केंद्र सरकार की तरफ से जारी की दरजाबन्दी अनुसार पंजाब को देश का सर्वोत्तम सूबा खुले आम गया जिस को ले कर आज कैप्टन अमरिन्दर सिंह मुख्य मंत्री पंजाब सूबे के सरकारी स्कूल अध्यापकों के साथ आनलाइन रूबरू हुए और उन के साथ बातचीत की। इस समय अपने संबोधन में कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि उत्तरी भारत में से पहली बार किसी सूबो का शिक्षा के क्षेत्र में देश का अव्वल दर्जो का सूबा बनना पंजाबी, पंजाब और पंजाबियत के लिए मान वाली बात है।
अमृतसर के ज़िला प्रशास्निक कंपलैक्स में बनाऐ विशेष केंद्र में मुख्य मंत्री पंजाब कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से मनप्रीत कौर ई टी टी अध्यापिका के साथ बातचीत की और उन के विचार जाने। इस मौके ज़िलाधीश गुरप्रीत सिंह ने बताया कि ज़िले के प्राइमरी और सेकंडरी स्कूलों में बच्चों का इजाफा दर्ज़ किया गया है। उन्होंने बताया कि सेकंडरी स्कूलों में 12.4 प्रतिशत बच्चे बढ़े हैं और अब कुल 122030 बच्चे सरकारी सेकंडरी स्कूलों में पढ़ रहे हैं और इसी तरह प्राथमिक स्कूलों में भी 9600 के करीब बच्चों का इजाफा दर्ज़ किया गया है।

ज़िलाधीश ने स्मार्ट स्कूलों की बात करते बताया कि ज़िले के 419 सेकंडरी स्कूलों में से 403 स्कूल स्मार्ट स्कूल बनाऐ जा चुके हैं और बाकी स्कूलों को भी जल्दी स्मार्ट स्कूलों का दर्जा दे दिया जायेगा। ज़िलाधीश ने बताया कि इसी तरह ही प्राथमिक के 827 स्कूलों में से 790 स्मार्ट स्कूल बना दिए गए हैं।
ज़िलाधीश ने बताया कि सुसत के सभी स्मार्ट स्कूलों में बच्चों को डिजिटल शिक्षा मुहैया करवाई जा चुकी है। उन्होंने बताया कि स्कूलों के कमरों को स्मार्ट रूम बना कर उन के में ऐल.ई.डी. लगाईआं गई हैं और सभी स्कूलों में कंप्यूटर लैब भी तैयार की गई हैं। उन्होंने बताया कि स्कूलों में मैथ पार्क भी तैयार किये गए हैं। जहाँ बच्चे आसानी के साथ मैथ को सिक्ख सकते हैं। ज़िलाधीश ने बताया कि बने मान वाली बात है कि हमारा राज शिक्षा के क्षेत्र में पहले नंबर पर आया है। उन्हों ने इस मौके ज़िले के सभी अध्यापकों को बधाई देते कहा कि यह सारा कुछ अध्यापकों के मेहनत का फल ही है। उन्होंने बताया कि कोरोना काल दौरान भी अध्यापकों की तरफ से बच्चों को शिक्षा के साथ जोड़ने के लिए आनलाइन शिक्षा मुहैया करवाई जाती रही है।
ज़िलाधीश ने बताया कि सरकारी स्कूलों अंदर सोलर पैनल लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि साल के अंत तक प्राथमिक स्कूलों अंदर कंप्यूटर लैबज़ स्थापित की जाएंगी जिससे बच्चों को आधुनिक तकनीक के साथ शिक्षित किया जा सके। उन्होंने बताया कि सूबे के सरकारी स्कूलों को पंजाब सरकार की तरफ से मुहैया करवाई गई सहूलतें कारण आज बड़ी संख्या में विद्यार्थी निजी स्कूलों से हट कर सरकारी स्कूलों में दाख़िला ले रहे हैं जिस कारण सरकारी स्कूलों में विद्यार्थियों का विस्तार दर्ज किया गया है जो कि निरंतर जारी है।
सूबा स्तरीय आनलायी मीटिंग दौरान मैडम अलका कालिया सहायक कमिशनर, ममता दत्ता चेयरमैन पंजाब खादी बोर्ड, सतिन्दरबीर सिंह ज़िला शिक्षा अफ़सर सेकंडरी, सुशील कुमार तूली ज़िला शिक्षा अफ़सर एलिमेंट्री, हरभगवंत सिंह उप ज़िला शिक्षा अफ़सर, रणजीत सिंह ज़िला इन्फर्मेशन अफ़सर, योगेश कुमार ए पी आर ओ, यशपाल ब्लाक एलिमेंट्री शिक्षा अफ़सर, परमिन्दर सिंह सरपंच ज़िला मीडिया कोआरडीनेटर, दविन्दर कुमार मंगोतरा सोसल मीडिया कुआरडीनेटर, रजिन्दर सिंह ए था एम, उपस्थित थे।

Comments are closed.

Online Shopping
Scroll To Top