Monday , 20 September 2021
Breaking News

हरेक सम्बन्धित विभाग अपना नोडल अफ़सर करे नियुक्त -अतिरित्क ज़िलाधीश

कल्याण केसरी न्यूज़ अंमृतसर, 14 सितम्बर:–सामाजिक सुरक्षा और स्त्री और बाल विकास विभाग, पंजाब की तरफ से सितम्बर महीने दौरान चलाए जा रहे पोसण अभ्यान की गतिविधियों का जायज़ा लेते हुए अधिक डिप्टी कमिश्नर रूही दुग्ग ने सम्बन्धित विभागों के आधिकारियों को हिदायत की कि पोषण माह को सही ढंग के साथ नेपरे चढाने के लिए सम्बन्धित विभाग अपनी अपना नोडल अधिकारी नियुक्त करन और रोज़मर्रा की की गति विधियों का डाटा कंप्यूटर में अपलोड किया जाये। मीटिंग को संबोधन करते अधिक डिप्टी कमिशनर ने बताया कि डिप्टी कमिशनर, गुरप्रीत सिंह खहरा के दिशा निरदेशा अनुसार ज़िला प्रोगराम अफ़सर, मनजिन्दर सिंह का नेतृत्व नीचे ज़िले के अलग -अलग आई.सी.डी.ऐस. ब्लाकों में गाँव पद्धर पर आंगणवाड़ी वरकरें की तरफ से पोषण अभ्यान अधीन पोषण दिवस मनाया जा रहा है। इस अभ्यान का मुख्य मकसद 0-6साल के बच्चों, गर्भवती औरतें,नरसिंग माँएं और किशोरियों में कुपोषण की समस्या को दूर करना और सेहत स्तर को ऊँचा उठाना है।

इस अभ्यान के मुख्य लक्ष्य 0-6साल वाले,कम वज़न वाले बच्चों का संख्या 2प्रतिशत सालाना घटा कर 6प्रतिशत घटाना 6से 59 महीनो के बच्चों में अनीमियाहर साल 3प्रतिशत घटाना, 5से 49 साल के बीच की किशोर लड़कियाँ और अन्यतों में अनीमिया की दर हर साल 3प्रतिशत के साथ घटाना,कम वज़न वाले बच्चों का संख्या हर साल 2प्रतिशत के साथ घटाना है। मीटिंग को संबोधन करते ज़िला प्रोगराम अफ़सर, मनजिन्दर सिंह ने बताया कि पोषण माह कैलंडर अनुसार सभी गाँवों में गतिविधियों करवाई जा रही हैं और आंगनवाड़ी और आशा वरकरें की तरफ से गाँव पद्धर गतिविधियों जैसे कि पोषण रैली, हैल्दी रैसपी, प्रदर्शनी,पोषण बगीचों तैयार करना और संतुलित पौष्टिक भोजन लेने के लिए पे्ररित किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आंगणवाड़ी वरकरें की तरफ से बच्चो के जन्म के पहले एक हज़ार दिन की महत्ता बारे भी बताया जा रहा है कि बच्चो के बेहतर शारीरिक और मानसिक विकास में महत्वपूर्ण योग्यता डालते हैं। इस के साथ ही गर्भवती और नरसिंग माँएं को कुपोषण और अनीमिया प्रति जागरूक किया जा रहा है कि गर्भवती औरतें को गर्भ दौरान टी.टी. टीकाकरन, आइरन फालिकऐसिड की गोलियाँ और संतुलित भोजन लेना बहुत ज़रूरी है। एक स्वस्थ समाज की सृजना तो हा की जा सकती है यदि गर्भवती माँ और बच्चो की सेहत पर ख़ुराक का गर्भ धारण के शुरू से ही ध्यान रखा जाये।
साल 2021 -2022 दौरान पोषण माह के अगाज़ के तौर पर सुसत के अलग -अलग आंगणवाड़ी सेंटरों में पोषण रैलियाँ करके इस प्रोगराम की शुरुआत की गई है। इन गतिविधियों को लोगों और पंचायत सदस्यों की तरफ से भरवा स्वीकृति मिल रहा है और पेशों जा रही गतिविधियों की श्लाघा भी की जा रही है। इस पोषण माह के लिए मिस खुसमीत कौर बाल विकास प्रजैकट अफ़सर रईआ (नोडल अफ़सर, पोषण अभ्यान) और मिस हरसीखा ज़िला कोआरडीनेटर हैं जो कि इस महीने दौरान गतिविधियों अपनी देख -रेख नीचे करवा रहे हैं।
इस मौके यह डी एम राज़ेस शर्मा, ज़िला विकास पर पंचायत अफ़सर गुरप्रीत सिंह गिल, बाल विकास से प्रोजैक्ट अधिकारी मैडम तनुजा गोयल, कुलदीप कौर, गगनदीप सिंह के इलावा अलग अलग विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Comments are closed.

Online Shopping
Scroll To Top