Breaking News

पंजाब विधान सभा के स्पीकर हुए श्री दरबार साहिब में नतमस्तक

कल्याण केसरी न्यूज़ अमृतसर ,13 मई: पंजाब विधान सभा के स्पीकर कुलतार सिंह संधवें आज सवेरे श्री दरबार साहब में नतमतक हुए और पंजाब के भले की अरदास की। उन्होंने श्री दरबार साहब और श्री अकाल तख़्त साहब में एक नमन श्रद्धालू की तरह माथा टेका और शब्द कीर्तन श्रवण किया। श्री दरबार साहब के बाहर पत्रकारों के साथ बातचीत करते उन्होंने कहा कि राज के भले के लिए पंजाब सरकार की नीयत बिल्कुल स्पष्ट और इमानदार है। उन्होंने कहा कि 75 साल की उलझी तारों को निकालने के लिए समय तो लगेगा, परन्तु पंजाब फिर ख़ुशहाल होगा, यह सरकार की गारंटी है। उन्होंने कहा कि आज मैं भी श्री गुरु रामदास आगे सरबत के भले की अरदास की है और गुरू महाराज ज़रूर कृपा करेंगे। इस के बाद में वह संत सिंह सुक्खा सिंह शैक्षिक संस्थायों के वें स्थापना वर्ष के समागम में बतौर मुख्य मेहमान शामिल हुए।

उन्होंने संस्था के संस्थापक सरदार संत सिंह की सोच को सलाम करते हुए कहा कि ऐसे गुरसिक्खों की सोच सदका ही इस संस्था ने हज़ारों विद्यार्थियों को समाज सेवा के लिए तैयार किया और आशा है कि गुरू साहब की कृपा के साथ यह संस्था कई पीढ़ीयें तक विद्या, समाज सेवा और इंसानियत का दान बाँटती रहेगी। बच्चों को संबोधन करते उन्हों ने बड़े लक्ष्य आवंटन के लिए प्रेरित करते कहा कि मनुष्य जो सोचता है, उस के लिए इमनादारी के साथ मेहनत करता रहे तो उसके लक्ष्य ज़रूर पूरे होते हैं। उन्होंने बच्चों को शिक्षा साथ-साथ संस्था की तरफ से दिए जाते इंसानियत के सबक को ग्रहण करन पर भी ज़ोर दिया। उन्होंने संस्था के प्रबंधकों को इस पवित्र मौके की बधाई देते हुए पंजाब सरकार की तरफ से हर तरह के साथ साथ देने का भरोसा दिया। इस मौके पर विधायक इन्दरबीर सिंह निझ्झर, डा. अजय गुप्ता और बाबा बकाला साहब के विधायक दलबीर सिंह टोंग भी विशेष तौर पर समागम में पहुँचे। संस्था के डायरैक्टर जगदीश सिंह की तरफ से आए मेहमानों को स्वागतम कहा गया। संस्था के प्रमुख जस्टिस स. रणजीत सिंह रंधावा, जो कि इसी स्कूल में पढ़े हैं, ने अपने समय पर की बातें सांझी करते संस्था की प्रगति के बिखड़े रास्ते का विस्तार बताया। इस मौके पर ज्ञानी केवल सिंह, पि्रंसीपल गुरप्रीत सिंह, एडवोकेट जसविन्दर सिंह और ओर सखशियतें उपस्थित थे। इसके बाद में संधवें भक्त पूरन सिंह पिंगलवाड़ा संस्था पहुँचे और वहाँ के मुख्य सेवक बीबी इन्द्रजीत कौर के साथ विचार -चर्चा की। उन्होंने कहा कि भक्त पूरन सिंह की तरफ से शुरू की मानवता की इस सेवा आगे आज हर मनुष्य का सिर झुकता है और ऐसीं संस्थायों और पुरुष हमारे सभी के लिए प्रेरणा का बड़ा स्रोत हैं।

Comments are closed.

Online Shopping
Scroll To Top